newsdog Facebook

ये बूरी आदतें आपके स्पर्म को कर रही हैं कमजोर

AP Hindi 2018-01-12 15:05:12

हमारी दैनिक दिनचर्या की आदतें हमारे शरीर में मौजूद खून की मात्रा, ब्लड प्रेशर आदि से लेकर पुरुषों के स्पर्म की मात्रा भी दैनिक दिनचर्या के गलत कामों से फ्रभावित होती है. पुरुषों में स्पर्म की मात्रा कम होने से शारीरिक समस्याओं से लेकर वैवाहिक समस्याओँ तक का सामना करना पड़ सकता है. जानिए पुरुषों की किन 6 आदतों के कारण उनके स्पर्म की शक्ति प्रभावित होती है.

ड्रिंक्स का सेवन

जिन ड्रिंक्स में कार्बन डाई ऑक्साइड पाया जाता है उनके सेवन से पुरुषों का स्पर्म काउंट ही नहीं बल्कि उनकी शक्ति भी प्रभावित होती है. बीयर का सेवन करने से भी पुरुषों में स्पर्म से संबंधित समस्याएं होने लगती हैं.

पैंट की जेब में फोन

अधिकतर पुरुष अपने पैंट की जेब में ही अपना फोन रखते हैं जो कि उनके लिए खतरनाक हो सकता है. मोबाइल फोन से निकलने वाली खतरनाक रेडिएशन पुरुषों के स्पर्म के प्रजनन को कम करते हैं. एक शोध के अनुसार मोबाइल फोन को पैंट की जेब में रखने से पुरुषों के स्पर्म 9 प्रतिशत तक होने की संभावना होती है.

लैपटॉप को गोद में रखकर

एक शोध में आई एक रिपोर्ट के अनुसार टेस्टिकल्स यानी अंडकोष को शरीर के तापमान से कम से कम 2 डिग्री कम तापमान पर रहना चाहिये. लैपटॉप को पैरों में रखकर काम करने से इसकी गर्म हवा पुरुषों के अंडकोषों का तापमान बढ़ा देते हैं जिससे ये पूरी तरह से प्रभावित होते हैं.

गर्म पानी से नहाना

ठंड में स्त्री हों या पुरुष सभी गर्म पानी से नहाना ही पसंद करते हैं. गर्म पानी भी लैपटॉप की तरह ही पुरुषों के स्पर्म काउंट को प्रभावित कर सकते हैं.

कम नींद लेना

डॉक्टरों के अनुसार भी हर दिन कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेना बेहद जरूरी होता है. जिस तरह हमारे शरीर और दिमाग को आराम की आवश्यकता होती है उसी तरह से स्पर्म काउंट भी नींद पूरी ना होने के कारण प्रभावित होते हैं. हालांकि कुछ डॉक्टर्स के अनुसार नींद पूरी ना हो पाने के कारण पुरुषों को योगा जरूर करना चाहिये.

पैंट का साइज

अक्सर पुरुषों को बूहुत अधिक टाइट पैंट या जींस आदि पहन लेने के बाद जननागों के क्षेत्र में खुजली की शिकायत होती है. ऐसा होने स्पर्म के लिए अच्छा संकेत नहीं माना जाता है. इसलिए जींस पहनते समय जींस आदि का थोड़ा से ध्यान जरूर से रखना चाहिये.