newsdog Facebook

आगरा में लोगों को 200 व 50 रुपए का नोट देखने को नहीं मिला

Hindustan khabar 2018-01-13 17:28:34

आगरा भले ही लोगों को 200 व 50 रुपए का नोट देखने को नहीं मिला हो, लेकिन इन नोटों से बनीं दूल्हे की मालाएं मार्केट में धड़ल्ले से बिक रही हैं. जबकि दीपावली के पहले से ही दो सौ रुपए के नोट जारी हो चुका हैं.

वहीं मार्केट में इन नोटों की मालाएं बनने से बैंक की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं. कई बैंकों ने यह आदेश जारी किए थे कि किसी भी ग्राहक को दस से ज्यादा दो सौ रुपए के नोट न दिए जाएं.

रावतपाड़ा, किनारी बाजार, शाहगंज, लुहार गली में दो सौ रुपए के नोटों की मालाएं विवाह समारोह के लिए बनाकर रखी गई हैं. इनमें 50 रुपए का नोट किनारे व दो सौ रुपए के नोट से फूल बनाए गए हैं.
आगे पढ़ें
ऐसे प्रयोग पर है पाबंदी
नोटों के ऐसे इस्तेमाल पर पहले से पाबंदी है, लेकिन दुकानों पर यह धड़ल्ले से न केवल बेची जा रही हैं, बल्कि आम लोगों के उलट सरलता से उपलब्ध भी हैं.

दो सौ व पचास रुपये के नोटों पर जो नंबर हैं, उससे बैंक की वह शाखा पकड़ में आ सकती है, जिसे इन नंबरों की गड्डियां आवंटित की गई थीं. करेंसी चेस्ट से यह किस बैंक को पहुंची है, वहां से इसकी जानकारी संभव है.

बैंक सूत्रों के मुताबिक कई मैनेजरों व करेंसी चेस्ट कर्मचारियों की सांठगांठ के कारण नए नोट मार्केट में मालाओं के रूप में उपलब्ध रहते हैं.
भारतीय रिजर्व बैंक ने दो सौ रुपए का नोट जारी किया था, लेकिन यह मार्केट में चलन में नहीं आ सका. आगरा में दो सौ के नोट की आपूर्ति आवश्यकता के मुताबिक नहीं रही है.

रिजर्व बैंक द्वारा दो सौ रुपए के नोट की छपाई बढ़ाने के साथ इसकी आपूर्ति पर जोर दिया जा रहा है. ज्यादातर बैंक चेस्ट से पुराने नोट रिजर्व बैंक भेजे जा चुके हैं, जिसके बाद नए नोट रखने के लिए बहुत ज्यादा स्थान रहेगी.

बैंकों ने अब नए नोट के मुताबिक एटीएम को केलिब्रेट करने की तैयारी की है. नोटबंदी के बाद बैंकों ने एटीएम को दो हजार व पांच सौ रुपये के नए नोट के लिए केलिब्रेशन कराया था. अब दो सौ रुपये के नोट के लिए एटीएम को व्यवस्थित किया