newsdog Facebook

पूर्व ब्लैक कमांडो के साथ आखिर क्यों बेरहम हुई नागौर पुलिस...

Eenadu India 2018-01-13 20:13:00

पीड़ित जवान।


नागौर। जिले के श्री बालाजी थाना पुलिस का बर्बर चेहरा सामने आया है। जहां पुलिस ने शांति भंग करने के आरोप में सीआरपीएफ के पूर्व जवान मधाराम सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर हवालात में बेरहमी से पिटाई की है। वहीं, पीड़ित ने एसपी से इस घटना की शिकायत की है।


बताया जाता है कि पूर्व सीआरपीएफ ब्लैक कमांडो बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह की सिक्योरिटी में रह चुका है। वहीं, जख्मी जवान ने नागौर पुलिस एसपी परिस देशमुख से मिलकर श्री बालाजी थानेदार रामनारायण की शिकायत की है।

पीड़ित जवान के मुताबिक शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार करके पुलिस ने सरकारी काम में बाधा सहित कई धाराएं जोड़कर मामले को गंभीर बना दिया है। वहीं, इस मामले में एसपी ने कार्रवाई करते हुए मामले की जांच एससी-एसटी सेल के डिप्टी एसपी को सौंप दिया है।