newsdog Facebook

अपने परनाना की आलोचना पर मोदी से यह कहा राहुल गांधी ने

WebKhabar 2018-02-13 02:59:41

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जवाब को 'राजनीतिक भाषण ' करार देते हुए आज कहा कि उन्हें विपक्ष पर आरोप लगाने की बजाय उसके सवालों के जवाब देने चाहिए।

हालांकि गांधी ने मोदी द्वारा देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के बारे में की गई टिप्पणियों पर बात नहीं की।

गांधी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा ,'मुझे लगता है कि मोदीजी यह भूल गये हैं कि अब वह देश के प्रधानमंत्री हैं।' उन्होंने कहा कि श्री मोदी ने एक घंटे से भी ज्यादा लंबा भाषण दिया लेकिन  किसानों की हालत और युवाओं को रोजगार देने के बारे में कुछ नहीं बोला। यह पूरीतरह राजनीतिक भाषण था।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा ,' श्री मोदी को समझना चाहिए कि वह विपक्ष में नहीं हैं। लोग उनसे राफेल डील, किसानों की हालत और युवाओं के बारे में सुनना चाहते हैं। वह कांग्रेस पार्टी की आलोचना कर रहे हैं ,ठीक है लेकिन संसद इसके लिए उचित मंच नहीं है।'

उन्होंने कहा कि संसद में उनसे यह उम्मीद की जाती है कि वह विपक्ष के सवालों का जवाब देंगे न कि उसकी आलोचना करेंगे। गांधी ने कहा, ‘संसद वह जगह नहीं जहां प्रधानमंत्री कांग्रेस के खिलाफ आरोप लगायें बल्कि उन्हें देश के समक्ष मौजूद ज्वलंत मुद्दों पर जनता को जवाब देना चाहिए।’

इस बीच कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि मोदी का भाषण अर्द्धसत्य था और इसमें तथ्यों  को गलत तरीके से पेश किया गया।