newsdog Facebook

आतंकियों के खिलाफ 16000 करोड़ रुपये खर्च करेगी भारत सरकरा- लिया बड़ा फैसला!

Today Samachar 2018-02-14 00:00:00


नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर समेत देश के कई अन्य जगहों दूसरे देशों से सटी सिमाओं की रक्षा में तैनात जवानों की तकात बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है। देश के बहादुर जवानों और भी आक्रामक शक्ति प्रदान करने के लिहाज से सरकार ने हल्की मशीनगनों से लेकर असॉल्ट राइफल्स और स्नाइपर राइफल्स के साथ अन्य कई रक्षा सामानों की खरीद को मंज़ूरी दी है।

जानकारी के अनुसार इस आर्डर को जल्द से जल्द पूरा किया जाना है, जिस पर करीब 16000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। बता दें कि रक्षा खरीद परिषद ने 15,935 करोड़ रुपये से ज्यादा के प्रस्‍तावों को मंजूरी दे दी है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्‍यक्षता में दिल्‍ली में हुई परिषद की बैठक में पूंजीगत खरीद प्रस्‍तावों को मंजूरी दे दी गई। परिषद ने तीनों सेनाओं के लिए 18 अरब 19 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत की हल्‍की मशीनगन खरीदने के प्रस्‍ताव को मंजूर किया है।

VIDEO: शहीद जवानों के जनाजे में उमड़ा जम्मू-कश्मीर, गलियों में रोते-बिलखते दिखे लोग`!

इससे सीमाओं पर तैनात सेना की जरूरतों को पूरा किया जा सकेगा। तीनों सेनाओं के लिए सात लाख 40 हजार असाल्‍ट राइफलें खरीदने को भी मंजूरी दी गई है। बताया जा रहा है कि सेना के लिए ये राइफलें (खरीदो और बनाओ श्रेणी) के तहत भारत में ही बनाई जायेगी। खबरों के अनुसार निजी क्षेत्र और सरकारी आयुध कारखानों में इन हथियारों का निर्माण किया जाएग, जिस पर करीब 22 अरब 80 करोड़ रूपये का खर्च होने का अनुमान लगाया गया है।

तो वहीं थलसेना और वायुसेना के लिए नौ अरब 82 करोड़ रुपये की लागत से पांच हजार सात सौ 19 स्‍नाइपर राइफलें खरीदने के फैसले को भी मंजूरी दे दी गई है। भारत सरकार के इस फैसले से दुश्मन देशों के बीच हड़कंप मची है।

JK: सुंजवान आतंकी हमले में पिता के साथ ‘शहीद’ हुए लांस नायक मोहम्मद इकबाल!

JK: आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में घायल हुई ‘सेना’ की पत्नी ने दिया बेटी को जन्म