newsdog Facebook

संभाग स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता, बैडमिंटन में अजमेर मुख्यालय विजेता

Ajmernama 2018-02-14 22:26:29

अजमेर, 14 फरवरी। अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. की संभाग स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता में बैडमिंटन व खो-खो स्पर्धाओं में अजमेर मुख्यालय अव्वल रहा।
प्रतियोगिता में संभागीय मुख्य अभियंता श्री एम. बी. पालीवाल, टीए टू एमडी श्री मुकेश बाल्दी, सहायक लेखाधिकारी श्री एस. पी. बंशीवाल व श्री प्रवीण कुमार बैडमिंटन में विजयी रहे।
निगम कर्मियों ने विभिन्न प्रस्तुतियां दी। जिनमें पीयूष गुप्ता ने ये जवानी है दिवानी, अन्नपूर्णा सेन ने नृत्य लुक छुप जाओ जी, मनी गुप्ता ने गीत मोह मोह के धागे, कलीम खान ने आने से उसके आए बहार, आाशीष शर्मा एवं गौरव दुबे ने कविता पाठ, गोपाल चतुर्वेदी ने आखंे जो तेरी देखीं व रंजना चौधरी एवं उनके सहयोंगियों ने घूमर नृत्य पर प्रस्तुति दी। समापन समारोह में सहायक अभियंता (डीडीयूजीजेवाय) व उनके सहयोगियों ने एक नाटक प्रस्तुत किया जिसमें नाटक मंचन के द्वारा यह बताया गया कि बिना किसी सुरक्षा उपकरण के बिजली कार्य करने से कोई भी दुर्घटना हो सकती है इसलिए कार्य पर जाने से पूर्व सुरक्षा उपकरण अवश्य साथ ले जाए। प्रबंध निदेशक ने बताया कि अजमेर डिस्कॉम के सभी वृत्तों में इस नाटक का मंचन किया जाकर तकनीकी कर्मचारियों को जागरूक किया जाएगा।
—-000—

विद्युत वितरण निगमों की एमनेस्टी योजना अवधि 31 मार्च तक बढ़ाई
अजमेर, 14 फरवरी। बिजली की बकाया राशि जमा नही कराने के कारण एक अप्रेल, 2007 से 31 मार्च, 2017 की अवधि में कटे हुए विद्युत कनेक्शन के उपभोक्ताओं के लिए बिना ब्याज व पैनेल्टी के बकाया राशि जमा कराने की एमनेस्टी योजना एक जून,2017 से शुरु हुई थी। योजना के तहत बकाया राशि एकमुश्त जमा करवाने पर ब्याज व पैनल्टी में शत-प्रतिशत छूट दी जाएगी। योजना की अवधि 31 दिसम्बर, 2017 तक प्रभावी थी जिसे बढ़ाकर 31 मार्च, 2018 कर दिया गया है।
उक्त आदेश अति. मुख्य अभियंता (मुख्यालय) श्री एस. एस. मीणा ने जारी किए।

विद्युत से होने वाली जनहानि/दुर्घटना रोकने के संबंध में जन संवाद
अजमेर, 14 फरवरी। अजमेर विद्युत वितरण निगम लि. के प्रबन्ध निदेशक श्री बी.एम. भामू के निर्देशानुसार विद्युत दुर्घटना एवं दुरुपयोग रोकने हेतु परिचर्चा एवं जनसंवाद शिविर के तृतीय चरण का आयोजन निगम के क्षेत्राधीन वृत्तांे में शनिवार 17 फरवरी को मध्यान्ह 12 बजे से मध्यान्ह 2 बजे तक सभी ग्राम पंचायतों के अटल सेवा केन्द्रो पर किया जाएगा।
प्रबन्ध निदेशक ने बताया कि ट्रांसफॉर्मरो, बिजली लाईनों एवं खुले तारों से सावधानी नही बरतने के कारण अधिक दुर्घटनाएं होती है, जिसके कारण आम आदमी एवं पशुओं के करंट लगने के कारण अकाल मृत्यु हो जाती है। विद्युत तंत्रा से होने वाली दुर्घटना/दुरुपयोग को रोकने के लिये जनसंवाद के तृतीय चरण में अजमेर डिस्कॉम के अधीन अजमेर, भीलवाड़ा नागौर, बांसवाडा, चित्तौडगढ, उदयपुर, डूंगरपुर, प्रतापगढ, राजसमन्द, सीकर एवं झुन्झुनु जिलो के 1108 ग्राम पंचायतों मंे निगम के 878 अभियन्ता, 155 लेखा शाखा के अधिकारी, लगभग 4000 फीडर इंचार्ज एवं 75 अन्य कर्मचारियों को विद्युत से होने वाली दुर्घटना एवं जनहानि को रोकने के लिये जनहित में जनसंवाद कर जागरुकता लाने के लिये लगाया गया है।
प्रबंध निदेशक ने बताया कि यह जनसंवाद कार्यक्रम 3620 ग्राम पंचायतों में आयोजित किए जाने का लक्ष्य तय किया गया है। प्रथम चरण 5 दिसम्बर को 1016 ग्राम पंचायतों व द्वितीय चरण 13 जनवरी को 854 ग्राम पंचायतों मे जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। तृतीय चरण में 1108 ग्राम पंचायतों मे 17 फरवरी को जनसंवाद किया जाएगा। उन्होने बताया कि प्रत्येक उपखण्ड के सहायक/कनिष्ठ अभियन्ता/फीडर मैनेजर इस जनसंवाद का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिये उस क्षेत्रा के सरपंच/जनप्रतिनिधि से भी संपर्क करेंगे। उन्होने बताया कि विद्युत दुर्घटना एवं दुरुपयोग रोकने के लिये डिस्कॉम द्वारा जो पेम्पलेट जारी किया है, जिसका प्रचार-प्रसार करने के लिये जिले के जिला प्रमुख/विकास अधिकारी/ जिला शिक्षा अधिकारी/ जन प्रतिनिधी से संपर्क कर विद्युत से होने वाली दुर्घटना/दुरुपयोग रोकने के लिये बचाव के उपाय को जनहित तक पहुचाने में सहयोग करने के लिये अनुरोध करे। इस जनसंवाद कार्यक्रम से विद्युत तंत्रा से होने वाली दुर्घटनाआंे में भी कमी आयेगाी।
प्रबंध निदेशक ने इस कार्यक्रम का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करने व आमजन को जागरूक करने के लिए डिस्कॉम के अधीन सभी विधायकों, जिलाधिशों, जिला प्रमुखों एवं सरपंचों को इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए अनुरोध किया है।