newsdog Facebook

शनि अमावस्या: आज के दिन भूलकर भी ना करें ये 5 काम, शनिदेव की वक्र दृष्टि से हो जाएंगे बर्बाद

Live India 2018-05-15 08:05:00
New Delhi: ज्येष्ठ अमावस्या पर भगवान शनि की जयंती मनाई जाती है। इस बार 15 मई, मंगलवार को शनि जयंती है। सभी ग्रहों में शनि को सबसे क्रूर ग्रह माना जाता है।

अगर किसी भी व्यक्ति की कुंडली में शनि की अशुभ छाया पड़ जाती है तो उसके बुरे दिन शुरू हो जाते है। 15 मई को शनि जयंती है इसी तिथि को छाया के गर्भ से शनिदेव पैदा हुए थे। आइए जानते है कौन से कार्य शनि जयंती पर नहीं करना चाहिए...

शास्त्रों के अनुसार शनि जयंती के दिन भूलकर भी बाल और नाखून नहीं काटना अथवा कटवाना चाहिए। शनि जयंती के दिन ऐसा करना अशुभ माना गया है। ऐसा माना जाता है कि शनि जयंती पर बाल और नाखून बनवाने से शनिदेव रूष्ट होते हैं। जिसके कारण व्यक्ति को आर्थिक टंगी अथवा आर्थिक रुकावटें आती है।

शनिदेव गरीबों पर हमेशा अपनी कृपा दृष्टि बनाएं रखते हैं, इसलिए शनि अमावस्या के दिन अगर आपके दरवाजे पर कोई भिखारी या भूखा व्यक्ति आए तो उसे खाली हाथ नहीं लौटाना चाहिए।

शनि जयंती पर जब भी भगवान शनि के दर्शन करने जाएं तो भूलकर भी उनकी आंखों में आंखें डालकर उन्हें नहीं देखना चाहिए, बल्कि उनके पैरों के दर्शन करना शुभ होता है।

शनि जयंती के दिन किसी भी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से शनिदेव क्रोधित होते हैं और दोषी को अपने कोप का भाजन बनाते हैं। शास्त्रों में ऐसा उल्लेख मिलता है कि शनि की कृपा पाने के लिए महिला का सम्मान करना चाहिए।



शनि जयंती के दिन किसी भी प्रकार का नया कपड़ा नहीं खरीदना चाहिए। इतना ही नहीं इस दिन नए कपड़े पहनने भी नहीं चाहिए।


हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें। मोबाइल ऐप डाउनलोड करें और रहें हर खबर से अपडेट।