newsdog Facebook

​​​​​​​कांग्रेस को लिंगायत मुद्दा भारी पड़ा: मोईली

nayaindia.com 2018-05-15 17:31:00

नई दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं करने पर पार्टी के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने आज कहा कि ये नतीजे निराशाजनक हैं और इसकी वजह 'जातिगत समीकरण को लेकर गलत प्रबंधन' है।

मोईली ने यह भी कहा कि कांग्रेस को चुनाव से कुछ महीने पहले लिंगायत वाला मुद्दा नहीं उठाना चाहिए था और पार्टी अपनी चुनावी रणनीति में जातिगत समीकरण को सही ढंग से नहीं साध पाई। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का बचाव किया और राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा चलाये गए 'नकारात्मक प्रचार अभियान' का 'सकारात्मक' चुनाव प्रचार के जरिये जवाब देने के लिए राहुल की सराहना भी की।

मोईली ने कहा, ''ये नतीजे काफी निराशाजनक हैं। मुझे लगता है कि इसमें जाति संबन्धी प्रबंधन में कुछ न कुछ गलत हुआ है। कर्नाटक में जातिगत समीकरण की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।'' कर्नाटक में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलता दिखाई नहीं दे रहा है। अब तक के नतीजों और रुझानों के मुताबिक भाजपा को 104, कांग्रेस को 76 और जदएस-बसपा गठबंधन को 40 सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। बहुमत का जादुई आंकड़ा 112 सीटों का है।