newsdog Facebook

साथी सुपरवाइजर ही निकला धोखाधड़ी का आरोपी

Patrika 2018-05-16 15:31:41

धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया

राजनांदगांव. पंजाब नेशनल बैंक से 7 लाख धोखाधड़ी करने के मामले का कोतवाली पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। धोखाधड़ी करने वाला आरोपी प्रार्थी के अंडर में काम करने वाला सुपरवाइजर ही निकला।

गौरतलब कि कोलिहापुरी दुर्ग निवासी रिटायर्ड बीएसपी कर्मी मुक्तावन लाल पिता मानसिंग चतुर्वेदी के पंजाब नेशनल बैंक के खाते से 7 लाख 8 हजार रुपए चेक से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा निकाल कर धोखाधड़ी किया गया था। प्रार्थी मुक्तावन ने इसकी शिकायत कोतवाली थाना में दर्ज कराई थी। पुलिस अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचना में जुटी थी।

कोतवाली टीआई याकूब मेमन ने बताया कि जांच के दौरान यह खुलासा हुआ कि प्रार्थी के सहयोगी बीएसपी में कार्यरत सुपरवाइजर भिलाई रिसाली निवासी अशोक चन्द्राकर पिता घनश्याम द्वारा कूटरचना कर फर्जी चेक के माध्यम से रुपए निकालने का खुलासा हुआ। टीआई मेमन ने बताया कि आरोपी अशोक चन्द्राकर प्रार्थी के साथ काम करता था और वह मुक्तावन का बैंक खाता नंबर व उसका हस्ताक्षर को जानता था और रिटायर्ड होने के बात रुपए धोखाधड़ी करने के फिराक में था। आरोपी द्वारा बोरसी निवासी एक अन्य व्यक्ति कृष्णा लाल पिता पीलाराम गोड़ के नाम से फर्जी आधार कार्ड व पेन कार्ड बना कर राजनांदगांव के पंजाब नेशनल बैंक में खाता खोला गया। इसके बाद मुक्तावन लाला के खाते में रिटायर्डमेंट का रुपए आने के बाद फर्जी चेक के माध्यम से 7 लाख 8 हजार रुपए की धोखाधड़ी की गई थी। पुलिस ने आरोपी अशोक चन्द्राकर के कब्जे से धोखाधड़ी के 45200 रुपए नगदी और दो नग मोबाइल जब्त कर दोनो को गिरफ्तार कर लिया है।

आधार कार्ड जोडऩे के नाम पर धोखाधड़ी

अंबागढ़ चौकी थाना क्षेत्र में बैंक खाते में आधार नंबर जोडऩे के नाम पर खाता नंबर लेकर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। प्रार्थी का शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी अनिल बंजारे पिता नरेश के मोबाइल नंबर पर आधार नंबर से फोन आया और उसके बैंक खाते में आधार नंबर जोडऩे का हवाला देकर खाता नंबर पूछा गया। प्रार्थी का बैंक में खाता नहीं होने की बात बताने पर आरोपियों ने उसके मां का खाता नंबर ले लिया है। इसके बाद आरोपियों द्वारा दो बार में 16998 रुपए निकाल लिया गया। पुलिस मामला दर्ज कर विवेचना में जुटी है।