newsdog Facebook

कचरा लॉरी ठेकेदारों की अनिश्चितकालीन हड़ताल

Patrika 2018-06-12 05:16:28

बेंगलूरु. बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) के कचरा लॉरी ठेकेदारों और मालिकों ने लंबित बिलों के भुगतान की मांग को लेकर सोमवार को प्रदर्शन किया। करीब 200 करोड़ रुपए का भुगतान लंबित है लेकिन बीबीएमपी पिछले पांच महीने से भुगतान करने में विफल है।

बेंगलूरु महानगर स्वच्छ लॉरी मलिकारा मट्टू गुट्टीगेदरा संघ के महासचिव एसएन बालसुब्रमण्यम ने कहा कि बीबीएमपी ने पिछले पांच महीनों से भुगतान नहीं किया है। संघ के कई बार आग्रह करने के बाद भी स्थिति नहीं बदली। इसलिए प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है और जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होतीं, तब हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा।


ठेकेदारों ने प्रदर्शन के तौर पर कचरा उठाने के काम का बहिष्कार किया है जिससे सोमवार को पूरे शहर में जहां-तहां कचरा पड़ा रहा। रुक रुककर हो रही बारिश के कारण कई इलाकों में स्थिति बेहद खराब हो गई।


चिकपेट जैसे प्रमुख व्यापारिक क्षेत्र में कचरा नहीं उठने और बारिश के कारण गंदगी, बदबू से लोगों का हाल बेहाल रहा। आवासीय क्षेत्रों के लोग भी कचरा नहीं उठने से परेशान रहे। लोगों को डर है कि अगर कचरा उठाव का त्वरित समाधान नहीं हुआ तो बारिश के दिनों में मच्छर बढें़ंगे जिससे कई बीमारियां फैलने का खतरा बढ़ सकता है।


सोमवार को हड़ताल के कारण शहर में घरों से कचरा संग्रहण का काम भी प्रभावित हुआ है जिससे लोगों के घरों में कचरे का ढेर लगने लगा है। व्यवसायिक क्षेत्रों में दुकानदारों और ग्राहकों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है।


गार्डन सिटी के गार्बेज सिटी बनने का खतरा
कचरा लॉरी ठेकेदारों और मालिकों की हड़ताल और प्रदर्शन के कारण शहर की खराब स्थिति को लेकर महापौर आर. संपतराज तथा बेंगलूरु विकास मंत्री जी. परमेश्वर संघ के प्रतिनिधियों से बात कर सकते हैं। साथ ही बीबीएमपी अधिकारियों की ओर से अपने स्तर से संघ के प्रतिनिधियों से सम्पर्क करने की खबर है। हालांकि, अगर मंगलवार तक कोई निर्णय नहीं निकला तो बेंगलूरु के एक बार फिर से गार्बेज सिटी बनने का खतरा हो जाएगा।