newsdog Facebook

बॉलीवुड की ये खूबसूरत एक्ट्रेस कर चुकी हैं फिल्मों में सबसे ज्यादा रेप सीन

Taaza Khoj 2018-11-05 12:33:13

आज हम आपको बॉलीवुड की एक ऐसी ही एक्ट्रर्स के बारे में बताएंगे जिसने तेजी से सफलता का रस चखा था उसी तरह से कैरियर भी खत्म हो गया था। हम बात कर रहे हैं एक्ट्रेस नजीमा की बारे में बात कर रहे हैं। नजीमा की खूबसूरती का तो हर कोई दीवाना था लेकिन उनकी एक्टिंग तो दर्शकों को खूब पसंद आती थी।

नजीमा ने बॉलीवुड में चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर एंर्टी मारी थी। आपको बता दें उन्होंने अपना कैरियर चाइल्ड एक्टर से शुरू किया था। नजीमा का ख्याब था कि वह बड़े होकर बॉलीवुड की एक सक्सेसफुल एक्ट्रेस बने। अक्सर कहते हैं ना जो सपने हम दिखते हैं वह कभी पूरे नहीं होते और वह टूट जाते हैं। उसी तरह से नजीमा का भी सपना बड़े होते-होते टूटने लगा। नजीमा को अपने कैरियर में कभी भी एक लीड के तौर पर फिल्म में काम नहीं मिला था।

बता दें कि नजीमा ने अपने अभिनेय से फिल्म की लीड एक्ट्रेस के सामने चैलेंज खड़ कर दिए थे। लेकिन डायरेक्टर्स ने उन्हें कभी भी मुख्य किरदार में नहीं लिया था और कोई फिल्म भी ऑफर भी नहीं की थी। आपको बता दें कि नजीमा को फिल्म ‘जिद्दी’, ‘आरजू’, ‘अप्रैल फूल’, ‘आये दिन बहार के’, ‘औरत’ और ‘वही लड़की’ जैसी हिट फिल्मों के लिए जाना जाता है।

नजीमा ने अपने फिल्मी कैरियर में साइड रोल ही किए लेकिन उन्हें अपने जीवन में काम की कमी कभी भी नहीं हुई थी। नजीमा ने अपने कैरियर में काफी अवॉर्ड भी जीते थे। लेकिन नजीमा को यह मलाल था कि डायरेक्टर्स उन्हें लीड रोल क्यों नहीं देते थे।

आपको बता दें कि बहनों के सीन के अलावा नजीमा के नाम पर सबसे ज्यादा रेप सीन भी दर्ज हैं। बॉलीवुड में 80 के दशक में फिल्मों में अक्सर हीरो या हीरोइन की बहन रेप का शिकार हो ही जाती थी। और इन सीन को काफी बार नजीमा ने ही किया है।

नजीमा को इस बात का भी डर रहता था कि अगर वह इन बहनों वाले सीनों को भी मना कर देंगी तो उन्हें आगे से डायरेक्टर काम देना बंद ना कर दें। यही वजह थी कि वह बहनों के सीन के लिए हामी भर लेती थी। नजीमा को फिल्म में जैसा रोल मिलता था वह उस रोल को कर लेती थीं। नजीमा नहीं चाहती थी कि बाकि एक्ट्रेस की तरह बॉलीवुड भी उन्हें भूल न जाए।

नजीमा ने कहा था, ‘जब आपके कोई नौकरी होती है तो कम से कम आप फील्ड में बने रहते हैं और तब इस बात के आसार भी रहते हैं कि आपको अपना हुनर दिखाने का मौका भी मिलेगा। अभी तो सक्सेस सिर्फ एक भ्रांति यानि डाउट ही लगती है, लेकिन एक ना एक दिन मैं जरूर सफल होऊंगी।’

सिर्फ 27 साल की छोटी सी उम्र में ही नजीमा इस दुनिया से चल बसीं। उन्हें कैंसर था जो दिनोंदिन इतना बढ़ गया कि नजीमा की जिंदगी निगल गया। उनकी कई फिल्में तो ऐसी रहीं जो उनकी मौत के बाद रिलीज हुईं और सभी सक्सेसफुल रहीं।