newsdog Facebook

चुनाव से पहले दंतेवाड़ा में बड़ा नक्सली हमला- तीन लोगों की मौत

Hw News Hindi 2018-11-08 13:57:21

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के आदेश को अनदेखी करना दिल्लीवासियों पर भारी पड़ गया है. दिवाली में 10 बजे के बाद भी पटाखे फोड़ने से लोगों का सांस लेने में मुश्किलें हो रही है इसके साथ ही लोगों को आँखों में जलन की शिकायत भी हो रही है. जमकर पटाखे फ़ोन के चलते दिल्ली में प्रदुषण का स्तर अधिक खरतनाक के पार हो गया है. सुबह से चारों ओर धुंध की चादर छाई हुई है जिसके कारण कई लोग मॉर्निंग वाक करने के लिए मुँह पर मास्क पहन कर अपने घर से निकल रहे है.

सुप्रीम कोर्ट ने कुछ सुनिश्चित पटाखों की बिक्री पर आदेश देते हुए कहा था कि पटाखे 8 से 10 बजे के भीतर ही फोड़ने की अनुमति दी जाएगी और अगर आदेश का पालन नहीं किया गया तो वे थाना के एसएचओ को व्यक्तिगत रूप से इसके लिए जिम्मेदार ठहराएगी.

#Delhi's Anand Vihar at 999, area around US Embassy, Chanakyapuri at 459 & area around Major Dhyan Chand National Stadium at 999, all under 'Hazardous' category in Air Quality Index (AQI) pic.twitter.com/QX7z5UYOl9

— ANI (@ANI) November 8, 2018


सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अपनी गलती मानते हुए दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने देर रात कहा, ‘‘हम हालात की निगरानी कर रहे हैं.’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘उल्लंघन के छिटपुट मामले हुए हैं. कुछ इलाकों में लोग रात आठ से 10 बजे की समय-सीमा के बाद भी पटाखे फोड़ते नजर आए. उल्लंघन के ऐसे मामलों की ठीक-ठीक संख्या का पता लगाया जाना बाकी है. हालांकि, हम उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे.’’

Delhi: According to the Air Quality Index (AQI) data, major pollutant PM 2.5 and PM 10 are at 500 (severe) in Lodhi Road area, on the day after #Diwali pic.twitter.com/a7qe2SEPhb

— ANI (@ANI) November 8, 2018


बता दें कि, दिल्ली में देर रात 3 बजे एयर क्वॉलिटी इंडेक्स के मुताबिक आनंद विहार के इलाके का स्तर 999 तक पहुंच गया था जो कि ‘अधिक खतरनाक’ स्तर है. इसके साथ ही मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में भी एक्यूआई का स्तर 999 रहा. जबकि दिल्ली के यूएस अम्बस्सी, चाणक्यपुरी में एक्यूआई का लेवल 459 रहा. लोधी रोड इलाके के एक्यूआई में पीएम 2.5 और पीएम 10 का स्तर 500 दर्ज किया गया.

यह भी पढ़े- केरल में आज से शुरू होगी बीजेपी की ‘सबरीमाला बचाओ’ रथयात्रा

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार शाम सात बजे एक्यूआई 281 था. रात आठ बजे यह बढ़कर 291 और रात नौ बजे यह 294 हो गया. जिसके बाद यह स्तर बढ़ते ही चला गया.