newsdog Facebook

नोटबंदी को लेकर कांंग्रेस का प्रदर्शन, भाजपा ने बताया कालाधन रखने वाले कर रहे हैं विरोध

Patrika 2018-11-09 19:32:02

नई दिल्ली। आठ नवंबर को नोटबंदी के दो वर्ष पूरे हो गए और इस विशेष अवसर पर एक बार फिर से देश की सियासत गरमा गई है। जहां एक और विपक्षी दल सरकार पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं और इस फैसले को एक व्यक्ति का तुगलकी फरमान बता रहे हैं तो वहीं सरकार अपने इस फैसले का बचाव कर रही है। इसी कड़ी में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस इसका विरोध इसलिए कर रही है क्योंकि उनकी काली कमाई, कालाधन सबकुछ चला गया। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस और राहुल गांधी नोटबंदी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन देश की जनता मोदी सरकार के साथ है।

VIDEO: संबित पात्रा का आरोप, नोटबंदी के दौरान कांग्रेस ऑफिस से किलो के भाव में भेजे गए थे नोट

नोटबंदी को लेकर राहुल देश के सामने झूठ फैला रहे हैं: पात्रा

आपको बता दें कि संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर नोटबंदी को लेकर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि गांधी परिवार की चार पुश्तों की काली कमाई चली गई इसलिए वे लोग अब देश की जनता के सामने झूठ फैला रहे हैं। पात्रा ने आगे बताया कि नोटबंदी के कारण तीन लाख शेल कंपनियां बंद हो गई। यूपीए के 10 वर्ष के शासन के दौरान कांग्रेस ने आँखे बंद कर रखी थी और अब विरोध जता रहे हैं।

भाजपा ने कांग्रेस पर कसा तंज, राहुल को PM बनाने के लिए पाकिस्तान से हो रहा है महागठबंधन

'नोटबंदी से बढ़ा टैक्स का दायरा'

बता दें कि पात्रा ने आगे विपक्षी दलों के घेरते हुए कहा कि नोटबंदी की वजह से टैक्स का दायरा बढ़ा है, देश आर्थिक तौर पर मजबूत हुआ है और डिजिटलाइजेशन की ओर दो कदम आगे बढ़ा है। उन्होंने आगे कहा कि जो लोग कालेधन के खिलाफ हैं और कालाधन को बचाने की कोशिश कर रहे हैं यह लड़ाई वैसे लोगों के खिलाफ है। पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी कालेधन का सपोर्ट करने वाले के साथ खड़े हैं। राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाते हुए पात्रा ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से नक्सलियों के साथ खड़ी रहती है जो एसी कमरों में रह कर अपना काम करते हैं। अर्बन नक्सल उनको क्रांतिकारी कहते हैं और ऐसे ही लोगों को नोटबंदी जैसे फैसले अच्छे नहीं लगते हैं।