newsdog Facebook

यहां पर लडकियां जवान होने पर ऐसे चलता है पता, फिर नहीं होता ऐसा…

Samachar Nama 2018-12-05 14:12:24

जयपुर, आधुनिक जामने में हर लड़की का सपना होता है कि वह सुंदर दिखाई दे। इतना ही नहीं लगातार अपनी खूबसूरती को बनाए रखने के लिए अलग अलग तरह के प्रयोग करती रहती है। जिससे उनकी खूबसूरती बनी रहती है। लड़कियों को सुंदर बनाने में उनके बालों का खास योगदान रहता है। जिसकी वजह से वह अपने बालों मे कई तरह के प्रोडक्कट का इस्तेमाल करती रहती है। और अपने बालों का सहेजती है। आज आपको बालों को लेकर एक ऐसा मामला बताने जा रहे हैं।

जिसके बारे में सुनकर आप चौंक जाएंगे। दरअसल यह चीन के गुआंगशी प्रांत स्थित हुआंगलुओ गांव में होता है। इस जगह पर अधिकतर महिलाओं के बाल 3 से लेकर 7 फीट तक लंबे होते हैं। यह एक विशेष जनजाति मे होता है। बताया जाता है कि यह जानजाति करीब 200 साल पुरानी है। इस प्रजाति में करीब 100 महिलाए हैं।

डेलीमेल मे छपि एक खबर के अनुसार ये महिलाएं याओ जाति की हैं जो अपने काले, चमकीले और लंबे बालों के लिए पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। अगर इस गांव में सबसे छोटे बालों की बात करे तो तीन फीट के हैं। वहीं अगर लंबाई की बात करे तो सात फीट तक लंबाई के बाल महिलाओं के है। गांव में 51 वर्ष की पान जिफेंग हैं जो इस परंपरा को अब तक जिंदा रखे हुए है।

इस महिला ने जानकारी देते हुए कहा कि जब कोई लड़की 18 साल की हो जाती है को उसके बाल काट दिए जाते हैं। जिसका मतलब यह होता है वह शादी के लायक हो गई है। वहीं उसने बताया कि एक बार बाल काटने के बाद दोबारा कभी भी बाल नहीं काटे जाते हैं।