newsdog Facebook

अभी-अभी : बिहार के दपीक ठाकुर को मिलेगा दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार, पीएम मोदी करेंगे सम्मानित

Live News Bihar 2019-01-08 16:56:31

PATNA : अभी अभी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि बिग बॉस फेम दीपक ठाकुर को दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार से सम्मानित किया जाएगा। मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार पीएम मोदी 24 फरवरी 2019 को दीपक ठाकुर को अपने हाथों सम्मानित करेंगे। सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से इस संदर्भ में दीपक ठाकुर को लेटर भेजा गया है। हालांकि अभी तक इस खबर की पुष्टि दीपक ठाकुर और उनके परिवार की ओर से नहीं की गई है।

क्या है दादा साहब फाल्के पुरस्कार : भारत सरकार की ओर से दिया जाने वाला एक वार्षिक पुरस्कार है, जो किसी व्यक्ति विशेष को भारतीय सिनेमा में उसके आजीवन योगदान के लिए दिया जाता है। इस पुरस्कार का प्रारम्भ दादा साहब फाल्के के जन्म शताब्दि-वर्ष 1969 से हुआ। उस वर्ष राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार के लिए आयोजित 17वें समारोह में पहली बार यह सम्मान अभिनेत्री देविका रानी को प्रदान किया गया। तब से अब तक यह पुरस्कार लक्षित वर्ष के अंत में अथवा अगले वर्ष के आरम्भ में ‘राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार’ के लिए आयोजित समारोह में प्रदान किया जाता है। वर्तमान में इस पुरस्कार में 10 लाख रुपये और स्वर्ण कमल दिये जाते हैं।


बिग बॉस से बदल गई दीपक ठाकुर की किस्मत :  बताते चले कि बिग बॉस सीजन 12 के कंटेस्टेंट रहे दीपक ठाकुर की शो से बाहर आने के बाद किस्मत चमक गई है। खबरें हैं कि उन्हें बैक टू बैक नए प्रोजेक्ट ऑफर हो रहे हैं। जी हां, ‘बिग बॉस’ खत्म होते ही दीपक को ‘खतरों के खिलाड़ी’ सीजन 10 का ऑफर मिला है। यही नहीं दीपक को तीन फिल्मों के ऑफर भी मिले हैं। दीपक को करणवीर बोहरा ने अपने प्रोडक्शन हाउस में बन रही फिल्म ‘हमें तुमसे प्यार इतना’ में गाने का मौका दिया है। फिल्म में करणवीर खुद हीरो का रोल प्ले कर रहे हैं। वहीं धवन प्रोडक्शन की ओर से भी एक कॉन्ट्रेक्ट के लिए दीपक को बुलाया गया है। साथ ही खबरें हैं कि श्रीसंथ की पत्नी भुवनेश्वरी भी एक फिल्म बना रही हैं जिसमें दीपक को गाने का ऑफर दिया गया है। श्रीसंथ ने दीपक को अपने तीन जोड़ी जूते भी गिफ्ट किए हैं जिसकी कीमत 3.90 लाख रुपए बताई जा रही है। बता दें कि ‘गैंग्स ऑफ़ वासेपुर 2’ जैसी फिल्मों में सिंगिंग कर चुके दीपक टॉप 3 बिग बॉस फाइनलिस्ट में भी पहुंच गए थे। लेकिन ऐन मौके पर 20 लाख रुपए का सूटकेस लेकर उन्होंने गेम छोड़ दिया था।

7 सालों से बेरोजगार थे दीपक : फेमस डायरेक्टर अनुराग कश्यप के एक फोन कॉल ने दीपक की जिंदगी बदल दी थी। दीपक के मुताबिक, 3 मिनट 48 सेकंड की इस बातचीत में वो काफी भावुक हो गए थे। अनुराग ने उन्हें गैंग्स ऑफ वासेपुर (2012) में गाने का मौका दिया था हालांकि, इस बिग ब्रेक के बाद भी 7 साल तक दीपक बेरोजगार रहे। दीपक 12 साल की उम्र से ही हारमोनियम बजाना सीख गए थे। दीपक को अपने पापा का खूब सपोर्ट मिला है। उन्होंने ही कभी दीपक को 350 रुपए में तबला लाकर दिया था।

2017 में बिहार में आई बाढ़ में दीपक के परिवार को काफी नुकसान हुआ था। इसकी वजह से उन्हें अपना पैतृक घर छोड़ना पड़ा था। पूरा परिवार मुजफ्फरपुर में किराए पर रहने लगा। दीपक ने मुजफ्फरपुर के ऑक्सफोर्ड पब्लिक स्कूल से 10वीं तक की पढ़ाई की। इसके बाद एलपी शाही कॉलेज, मुजफ्फरपुर से 12th करने के बाद एलएन मिश्रा कॉलेज ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट से BBA किया। बाद में परिवार की माली हालात ठीक नहीं होने के कारण उन्हें MBA से ड्रॉपआउट होना पड़ा। इसके बाद दीपक म्यूजिक पर फोकस करने लगे। उन्होंने डॉक्टर संजय कुमार संजू से म्यूजिक सीखा है।

The post अभी-अभी : बिहार के दपीक ठाकुर को मिलेगा दादा साहेब फाल्के पुरुस्कार, पीएम मोदी करेंगे सम्मानित appeared first on Mai Bihari.



Latest posts by quaint media (see all)