newsdog Facebook

संसद ने रचा इतिहास : सवर्ण आरक्षण बिल राज्यसभा में भी पास, राष्ट्रपति की मुहर का इंतजार

LiveUttarakhand 2019-01-10 10:02:26
Home/Main Slide/संसद ने रचा इतिहास : सवर्ण आरक्षण बिल राज्यसभा में भी पास, राष्ट्रपति की मुहर का इंतजार Main Slideराष्ट्रीयव्यापार

संसद ने रचा इतिहास : सवर्ण आरक्षण बिल राज्यसभा में भी पास, राष्ट्रपति की मुहर का इंतजार

Suraj 14 mins ago

2 1 minute read



मोदी सरकार द्वारा सवर्णों का 10 प्रतिशत का सवर्ण आरक्षण बिल राज्यसभा से भी पास हो गया। बीते बुधवार को करीब 10 घंटे की बहस के बाद इस बिल को मंजूरी मिल गई। संसद के ऊपरी सदन में कई सांसदों ने इस बिल का खुल कर स्वागत किया वहीं कई सांसदों ने मोदी सरकार की खराब नियत बताई। इसके पास होने के बाद पीएम मोदी ने बधाई भी दी।

बता दें कि संसद में चली इस बहस के बाद बिल 165/172 से पास हो गया। कहने का मतलब ये है कि सिर्फ सात सांसदों ने इस बिल का विरोध किया। कई सांसदों ने बताया कि बिल अधूरा है और सिलेक्ट कमेंटी को भेजने की मांग रखी, लेकिन राज 10 बजकर 12 मिनट पर यह प्रस्ताव खारिज कर दिया गया।


इसे भी पढ़ें- GOOGLE ने उड़ाए JIO के होश, लॉन्च किया 499 रुपए का 4G Phone

बता दें कि इस प्रस्ताव के समर्थन में 18 वोट पड़े वहीं 155 सांसदों ने इस प्रस्ताव के विरोध में वोटिंग की। बता दें की रात 10 बजकर 24 मिनट पर इस बिल को पास कर दिया गया। इसके बाद राज्यसभा को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें- इस राशि पर टूटेगा जनवरी का कहर, खो देंगे Love Life, बचने के लिए करें Partner के साथ…

गौरतलब है कि कल इसे लोकसभा में भी मंजूरी दी गई थी। दोनों सदनों में बिल को मंजूरी मिलने के बाद अब राष्ट्रपति के मुहर लगने की देरी है। राष्ट्रपति की मंजूरी मिलते ही आर्थिक आधार पर सवर्णों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण देश में लागू हो जाएगा।