newsdog Facebook

चाय बेच कर किया 23 देशों का पर्यटन

Spark TV Hindi 2019-01-10 18:25:01

अगर किसी चीज़ को पुरे शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनात आपको उससे मिलाने की साज़िश में लग जाती है। ॐ शान्ति ॐ के इस डॉयलोग को करीब 70 साल के विजयन और उनकी पत्नी ने सच कर दिखाया। कहते है न जहा चाह वहा राह इस जोड़े ने बस चाह के साथ साथ चा यानी (चाय ) का इस्तेमाल किया।अपने सपनो को साकार करने के लिए। 1963 से केवल चाय बेच बेच कर 23 देशो का पर्यटन किया ऐसा नहीं है की इनकी कोई बहुत बड़ी चाय की दूकान है। कोचीन मे बस एक छोटी सी दूकान है। लेकिन इनके बचत का तरीका काफी साधारण और शानदार है। रोज़ाना ये 300 रूपए बचाते है। अपनी दूकान में भी इन्हिने कोई वर्कर नहीं रखा है। ये खुद में वर्कर और मंजर दोनों है अपनी दूकान के लिए लेकिन सबकुछ इतना फाइनैंशली आसान भी नहीं है। ट्रिप के लिए ये बैंक लोन भी लेते है। लेकिन लग भग 3 साल में लोन चुकता भी कर देते है। यही इनका फंडा है और यही सिलसिला हर ट्रिप के बाद चलता रहता है और सबसे बड़ी बात ये है की ये अपने सपने को जी रहे हैऔर दुनियाँ के लिए मिसाल बन रहे है। वैसे आप इनकी कहानी से कितने प्रभावित हुए।