newsdog Facebook

Pradosh vrat 2021: अप्रैल महीने का पहला प्रदोष व्रत कल, जानिए पूजन का शुभ मुहूर्त

Samachar Nama 2021-04-08 00:00:00

हिंदू धर्म में व्रत त्योहारों को विशेष महत्व दिया जाता हैं वही अप्रैल महीने का पहला प्रदोष व्रत कल यानी 9 अप्रैल 2021 दिन शुक्रवार को पड़ रहा हैं शुक्रवार के दिन प्रदोष व्रत पड़ने से इसे शुक्र प्रदोष व्रत कहा जा रहा हैं इस व्रत को प्रदोषम के नाम से भी जानते हैं यह चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता हैं यह तिथि भगवान शिव को समर्पित होती हैं। इस व्रत को करने से शिव की विशेष कृपा प्राप्त होती हैं। 9 अप्रैल को इस महीने का पहला प्रदोष व्रत पड़ रहा हैं यह शुक्रवार का दिन हैं कहा जाता है कि प्रदोष काल सूर्यास्त से ही आरंभ हो जाता हैं इस दिन भगवान शिव की पूजा तक की जाती हैं जब त्रयोदशी तिथि और प्रदोष साथ साथ होते हैं तो आज हम आपको प्रदोष व्रत की पूजा का शुभ मुहूर्त बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।


चैत्र मास, कृष्ण पक्ष, त्रयोदशी तिथि
त्रयोदशी तिथि आरंभ— 9 अप्रैल 2021, शुक्रवार, सुबह 3 बजकर 15 मिनट से
त्रयोदशी तिथि समाप्त— 10 अप्रैल 2021, शनिवार, सुबह 4 बजकर 27 मिनट पर


आपको बता दें कि प्रदोष व्रत करने से जातक के सभी दोषों का निवारण हो जाता हैं व्रत को विधि पूर्व करने से ​भगवान शिव अपने भक्तों से प्रसन्न हो जाते हैं और उनपर अपनी कृपा बनाएं रखते हैं इस तिथि पर केवल भगवान शिव की ही नहीं बल्कि चंद्रदेव की भी पूजा की जाती हैं पौराणिक कथाओं के मुताबिक सबसे पहला प्रदोष व्रत चंद्रदेव ने ही रखा था। इस व्रत के प्रभाव से भगवान शिव प्रसन्न हुए थे और चंद्र देव को क्षय रोग से मुक्त किया था।