newsdog Facebook

अनोखा मंदिर जिसमें प्रवेश के लिए चढ़ाना पड़ता है खून, कौरव और पांडवों की होती हैं पूजा

Gyan Hi Gyan 2021-04-08 20:22:09

भारत अपने इतिहास और मंदिरों की वास्तुकला के लिए भी जाना जाता है। भारत के मंदिर किसी न किसी तरह से धार्मिक इतिहास से संबंधित हैं। हर मंदिर अपनी विशिष्टता और चमत्कारों के लिए जाना जाता है। इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसे अनोखे मंदिर के बारे में भी बताने जा रहे हैं, जहां प्रवेश करने के लिए आपको अपना रक्त दान करना होगा। हम बात कर रहे हैं द्रौपदी के मंदिर की जो बैंगलोर, दक्षिण कर्नाटक में स्थित है। यहां कोई भगवान नहीं बल्कि कौरवों और पांडवों की पूजा की जाती है।

हैरानी की बात यह है कि यहां लोग प्रसाद नहीं चढ़ाते बल्कि अपना रक्त चढ़ाते हैं। मंदिर के निर्माण की बात करें तो यह एक 800 साल पुराना मंदिर है जिसे धर्मराय स्वामी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। देवताओं का शहर उत्तराखंड के उत्तर प्रदेश के सरनौल में स्थित एक मंदिर है, जिसे दानवीर कर्ण का मंदिर कहा जाता है।

जानकारी के लिए बता दें कि यह मंदिर लकड़ी से बना है जिसमें पांडवों के 6 छोटे मंदिर भी हैं। कहा जाता है कि लोग अब भी हिडिम्बा मंदिर में प्रसाद के रूप में अपना रक्त चढ़ाते हैं।