newsdog Facebook

कोरोना वैक्सीनेशन की स्थिति को लेकर शिवराज सरकार पर भड़के कमल नाथ

News Track Hindi 2021-05-04 11:24:00

भोपाल: मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है इस स्थिति में विपक्ष निशाना साधने में बिलकुल भी पीछे नहीं है। इस समय शिवराज सरकार लगातार निशाने पर बनी हुई है। अब हाल ही में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कोरोना शिवराज सरकार पर तंज कसते हुए बयान जारी किया है।

यह तो प्रदेश के नागरिकों के साथ बड़ा अन्याय व धोखा है ?
एक तरफ कोरोना संक्रमण होने पर अस्पतालों में बेड नहीं ,इलाज नहीं ,ऑक्सीजन नहीं ,इंजेक्शन नहीं ,जीवन रक्षक दवाइयां नहीं और दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वैक्सीन भी नहीं ?
जनता के साथ कितना अन्याय ?

— Office Of Kamal Nath (@OfficeOfKNath) May 3, 2021

उन्होंने एक ट्वीट किया है जिसमे उन्होंने लिखा है, ''जिस वैक्सिनेशन कार्यक्रम को प्रतिदिन , दिन-रात और बेहद तीव्र गति से होना चाहिए , वह अब प्रदेश में अलग- अलग तारीख़ों में सत्रो में होगा और वह भी सीमित संख्या में होगा। जारी आँकड़ो के हिसाब से तो प्रदेश के नागरिकों को वैक्सीन लगने में ही महीनो लग जाएँगे। वैक्सीन के अभाव में कोरोना संक्रमण फैलने का दोषी कौन है आप बताये प्रदेश के नागरिकों को आख़िर कितने समय में वैक्सीन लग जायेगी। कब तक आवश्यक डोज़ प्रदेश को उपलब्ध होंगे।''

इसी के साथ उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा है- ''आप 5 मई से प्रदेश में इस आयु वर्ग के लोगों के लिये वैक्सिनेशन कार्यक्रम को शुरू करने की बात कह रहे है , जो कि 1 मई से प्रारंभ होना था लेकिन यह घोषणा भी चुनावी जुमला ही साबित हुई। आप का यह वैक्सिनेशन कार्यक्रम देख कर आश्चर्य भी हो रहा है और कई सवाल भी खड़े हो रहे है। ऑक्सीजन नहीं ,इंजेक्शन नहीं ,जीवन रक्षक दवाइयां नहीं और दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वैक्सीन भी नहीं है।'' इस तरह पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ लगातार कई बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को अपने निशाने पर ले चुके हैं।